Top stories

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: पढ़िए आज की सभी ताजा खबरें और मुख्य समाचार

Janjwar Desk
1 Oct 2021 5:05 PM GMT
Aaj Ki Taza Khabar 17 December 2021: आज की ताजा खबर पेश है एक क्लिक में यहां
x

Aaj Ki Taza Khabar 17 December 2021: आज की ताजा खबर पेश है एक क्लिक में यहां

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: पढ़िए आज की सभी ताजा खबरें और मुख्य समाचार

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: आज हम जिस वोकल फॉर लोकल (Vocal for Local) की बात करते हैं। आज से लगभग 100 साल पहले गांधी जी (Mahatma Gandhi) ने ऐसा सपना देखा था। जिसमें वास्तव में गाँव, गरीब, किसान का हित निहित था। गांधी हमेशा ग्रामीण भारत (Rural India) के विकास की बात करते थे। यदि सरकारें महात्मा गांधी के विचारों को स्वीकार करतीं तो देश में बड़े-बड़े उद्योगों की जगह छोटे-छोटे कुटीर उद्योगों का जाल बिछा होता। तकनीक और उत्पादकता गांव और तहसील के स्तर तक पहुंच चुकी होती। आज जिस तरह से सभी उद्योगों को बड़े-बड़े उद्योगपतियों के हाथों बेच दिया जा रहा है, गांधी कभी ऐसा नहीं चाहते थे।

Read Full Story : Mahatma Gandhi Jayanti : 100 साल पहले गांधी ने देखा था वोकल फॉर लोकल का सपना

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: बापू मानते थे कि कोई भी समाज तब तक समृद्ध नहीं हो सकता, जब तक वहां की महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार और शोषण बंद नहीं हो जाता। गांधी के अनुसार महिलाओं की स्थिति तभी सुधर सकती है, जब वे खुद अपने सम्मान और हक के लिए आवाज उठाएंगी। महात्मा गांधी ने महिलाओं को शिक्षित करने पर जोर दिया और बाल विवाह, घूंघट प्रथा जैसी परम्पराओं को गलत बताया। गांधी पुरुषवादी मानसिकता के विरोधी रहे और पुरुषों द्वारा महिलाओं को भोग की वस्तु और अपना गुलाम समझना उन्हें गलत लगता था। गांधी जी ने साफ-साफ कहा था कि वे अगर महिला होते तो पुरूषों द्वारा किए गए अत्याचार को कतई बरदाश्त नहीं करते।

Read Full Story : Gandhi Jayanti Special 'स्त्री खुद को पुरुषों के भोग की वस्तु मानना कर दे बंद तो उसका सभी तरह का शोषण हो जायेगा खत्म'

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: गांधी की बहार है! जिधर देखिए उधर ही गांधी खड़े हैं। अखबार पटे हैं, हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों और सरकारी आयोजनों में गांधी के चित्र व सुवाक्यों की झड़ी लगी हुई है। सरकारी विभागों को आदेश मिला है कि गांधी जी के नाम पर आयोजन होना ही चाहिए। एक बड़े निगम के बड़े अधिकारी ने परेशान हो कर पूछा - क्यों, क्या, कैसे करें हम यह आयोजन? और फिर यह भी कि हमारे यहां कोई जानता भी नहीं है कि इस आदमी के बारे में जानने लायक बचा क्या है कि जो हम नहीं जानते हैं? फिर अपने आप से ही जरा धीमी आवाज में बोले- हम यह भी तो नहीं जानते हैं कि हम क्या नहीं जानते हैं?

Read Full Story : Gandhi Jayanti Special महत्वपूर्ण लेख : गांधी के साथ चलने के खतरे

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के जाते ही कानपुर में बदमाशों ने पुलिस के इकबाल को चुनौती दे दी है। शहर में ताबड़तोड़ हत्याओं की झड़ी लग गई है। बीते 24 घंटे के भीतर शहर में 6 लोगों को मौत के घाट उतारा जा चुका है। ताजा मामला शहर के फजलगंज (Fazalganj) थानाक्षेत्र का है जहाँ बस डिपो के पास एक घर के आगे बनीं दुकान में तीन लोगो की हत्या कर दी गई। तीनों के शव एक रस्सी में बंधे पाए गए हैं।

Kanpur Horror : 24 घंटे के भीतर आधा दर्जन हत्याओं से दहला कानपुर, गोलीबारी और खूनी आतंक से कमिश्नरी को चुनौती

Aaj Ki Taza Khabar, 2 October 2021: 2017 में सत्ता संभालने के बाद प्रदेश के मुखिया बने योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा था कि गुंडे अपराधी भाग गये हैं। उन्होने माफियाओं की संपत्ती और अवैध निर्माण के लिए जेसीबी जैसी व्यवस्था होने की बात कही थी। लेकिन उनकी कही बात के बाद प्रदेश में गुडों और माफियाओं की कमी उनका प्रशासन पूरी कर रहा है। प्रशासन लगातार दबंगई, गुंडई जैसे शब्दों को खुद में समेट रहा है।

Read Full Story : Unnao वाले बदनाम IAS दिव्यांशु पटेल और उनके परिवार की दबंगई से ब्राह्मण परिवार गांव से पलायन को मजबूर

त्योहारों को लेकर दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने गुरूवार को दिशा निर्देश जारी कर दी हैं। इस वर्ष रामलीला (Ramleela), दशहरा (Dasshera) और दुर्गा पूजा (Durga Puja) मनाने के लिए नियमों में ढील दी गई है। वहीं इस बार छठ पूजा के सार्वजनिक रूप से आयोजन पर प्रतिबंध (Ban) लगा दिया गया है। मार्च 2020 से दिल्ली में सभी तरह की सामाजिक, धार्मिक और त्योहारों (Social, Religious And Festivel) से जुड़े कार्यक्रमों पर पूरी तरह से रोक थी। अब जाकर उन पाबंदियों में कुछ शर्तों के साथ 15 नवंबर तक रामलीला, दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली सहित कई पर्व मनाएँ जाएंगे। 8 नवंबर से शुरू होने वाले छठ पूजा को सिर्फ लोग अपने घरों में ही मना सकेंगे। कोरोना (Coronavirus) संक्रमण फैलने से रोकने को ध्यान में रखकर सभी निर्देश दिए गए हैं।

Read Full Story : दिल्ली में सार्वजनिक जगहों पर नहीं मना सकेंगे छठ पूजा, DDMA की गाइडलाइन जारी

UP Election 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) से पहले छोटे दल भी अपने सियासी दांव को मजबूत कर रहे हैं, शिवपाल यादव आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party), समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के साथ गठबंधन के लिए लंबा इंतजार करने के पक्ष में नहीं है। हाल ही में शिवपाल यादव ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को 11 अक्टूबर तक गठबंधन फाइनल करने का अल्टीमेटम दे दिया है। साथ ही कहा है कि अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) जल्दी ही अपनी प्रतिक्रिया दें, नहीं तो शिवपाल (Shivpal yadav) विरोध में उत्तर प्रदेश की सभी 403 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की तैयारी करेंगे। मीडिया में खबरें हैं कि 22 नवंबर को मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर यादव परिवार एक हो जाएगा।

Read Full Story : चाचा शिवपाल का अखिलेश यादव को अल्टीमेटम, गठबंधन पर जल्दी साफ करें अपना रुख वरना 403 सीटों पर उतारूंगा उम्मीदवार

Farmers Movement : किसान आंदोलन (Farmers Movement) पिछले 10 महीनों से सरकार के लिए एक चिंता का विषय बना हुआ है। वहीं सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने एक याचिका की सुनवाई के दौरान टिप्पणी करते हुए कहा कि किसी हाईवे (Highway) को अनंतकाल के लिए बंद नहीं किया जा सकता। दिल्ली बार्डर (Delhi Border) पर किसानों के आंदोलन से रास्ता बंद है। इस तरह के मामलों के लिए पहले से ही सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है। सरकार उसे लागू नहीं करवा पा रही है। बार्डर पर रास्ते बंद होने से परेशान आम नागरिक अब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की ओर आशा की नज़र से देख रहा है। नोएडा की रहने वाली मोनिका अग्रवाल (Monika Agrawal) ने इस मसले में याचिका दाखिल की थी। उन्होनें किसान आंदोलन के चलते कई महीनों से दिल्ली और नोएडा हाइवे बाधित होने का मसला उठाया है।

Read Full Story : अनंतकाल के लिए बंद नहीं किया जा सकता हाईवे - सुप्रीम कोर्ट

Jharkhand News : राजधानी रांची में 18 वर्ष की छात्रा ने 15वें फ्लोर से छलांग लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। घटना रांची के लालपुर क्षेत्र का है, जहां BA में पढ़ रही छात्रा विनीता ने 30 सितंबर गुरुवार को एक अर्धनिर्माण बहुमंजिला इमारत से कूद कर आत्महत्या कर ली। इतने उंचाई से गिरने के कारण युवती की मौके पर ही मौत हो गयी। घटना की जानकारी मिलते ही लालपुर थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने युवती का बिल्डिंग में प्रवेश करते हुए CCTV फुटेज बरामद किया है। इसके अलावा मृतक के बैग से कॉलेज का आईडी कार्ड और सुसाइड नोट भी बरामद किया है। पुलिस द्वारा शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है।

Read Full Story : बहुमंजिला इमारत से कूद कर छात्रा ने की खुदकुशी, बैग से सुसाइड नोट बरामद

Next Story

विविध